PM Modi पर इस बॉलीवुड एक्टर ने कसा तंज, कहा- क्या हमने कोरोना का इलाज ढूंढ लिया है?


बीती रात भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश को संबोधित किया था, जिसमे उन्होंने आने वाले समय को लेकर कई बातों पर चर्चा की. इस दौरान पीएम मोदी ने जरूरतमंद, गरीब परिवार और किसानों के लिए 20 लाख करोड़ रूपये के राहत पैकेज की भी घोषणा की. 



देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने ये भी कहा कि “जब पूरी दुनिया कोरोना से लड़ रही है तो भारत की दवाई एक नई आशा की किरण लेकर आई है.”

गौरतलब है कि कोरोना वायरस की महामारी के चलते भारत ने अभी तक कई तरह की दवाइयां बाकी देशों में पहुंचाकर उनकी मदद की है, जिसके बाद भारत की खूब तारीफ हुई. 
इसी के चलते पीएम मोदी ने यह बात उस मामले को ध्यान में रखकर कही थी कि आज अधिकांश देश भारत की तारीफ कर रहे हैं और उनके साथ है. इसलिए हर भारतीय को गर्व है और होना भी चाहिए.




A post shared by VISHAL (@vishaldadlani) on


हालांकि इस मामले पर बॉलीवुड सिंगर विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) ने एक ऐसा ट्वीट किया है, जो खूब वायरल हो रहा है. 

विशाल ने पीएम मोदी की बात का उल्टा मतलब निकालते हुए ट्वीट किया है, जिसकी वजह से उन्हें जमकर ट्रोल भी किया जा रहा है. विशाल ददलानी ने ट्वीट करते हुए लिखा है-


क्या सच में गिरफ्तार हुई हैं Poonam Pandey? एक्ट्रेस ने Video जारी कर खुद किया खुलासा

क्या? कौन सी दवाई? उन्हें कौन बढ़ावा दे रहा है और क्यों? क्या हमने कोरोना का इलाज ढूंढ लिया है या मुझसे कुछ सुनने में छूट गया है.



आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि जब विशाल ददलानी ने ऐसा बयान दिया है. वह अक्सर सोशल कार्यों पर अपनी बेबाक राय देते आ रहे हैं. यही वजह है कि ये अक्सर सुर्ख़ियों में बने रहते हैं. 

गौरतलब है कि विशाल बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने सिंगर हैं. ये म्यूजिक डायरेक्टर शेखर के साथ फिल्मों में अपना म्यूजिक देते आ रहे हैं.

Tere Bina Song: लॉकडाउन के बीच सलमान खान और जैकलीन के गाने ‘तेरे बिना’ ने मचाया धमाल

इनके अलावा पीएम मोदी की बात करें तो बीते मंगलवार उन्होंने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया था, जिसके बारे अधिक जानकार आज उपलब्ध कराई जाएगी. 

आपको बता दें, यह आर्थिक पैकेज देश की पूरी जीडीपी का 10 प्रतिशत है. देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने भारत देश में बनी ही वस्तुओं को खरीदने यानी मेक इन इंडिया पर जोर दिया, जिससे देश की अर्थव्यवस्था फिर से अच्छी हो सके.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां