TikTok को कड़ी टक्कर दे रहा है Mitron App, 50 लाख से ज्यादा लोग कर चुके हैं डाउनलोड


कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से कई देशों में लॉकडाउन (Lockdown) चला, जिसका फायदा कई वीडियो शेयर प्लेटफ़ॉर्म टिकटॉक (TikTok) ने जमकर उठाया. 

mitron app review in hindi


फ्री होने की वजह से देश के अधिकांश लोगों ने इस एप का खूब इस्तेमाल किया, जिसकी वजह से टिकटॉक खूब पॉपुलर हुआ.

वैसे इसी बीच कई वेब सीरीज भी रिलीज़ हुई थीं, जिन्होंने दर्शकों के मनोरंजन का खूब ध्यान रखा. लेकिन टिकटॉक ने इन दिनों यूजर्स का ध्यान सबसे ज्यादा खींचा, जिसकी वजह से इसकी पॉपुलैरिटी इतनी बढ़ गई.

गौरतलब है कि कुछ समय पहले भारत के बड़े यूट्यूबर अजय नागर (Ajey Nagar) ने अपने यूट्यूब चैनल कैरी मिनाटी (Carry Minati) से एक वीडियो अपलोड किया था. 


इस वीडियो में उन्होंने टिकटॉक और उसके यूजर्स को रोस्ट किया था. बता दें, करीब 6 दिनों तक यह वीडियो ट्रेंडिंग में रहा और कई रिकॉर्ड भी बनाए लेकिन यह वीडियो यूट्यूब ने डिलीट कर दिया. 

इसके बाद काफी समय तक भारत में सोशल मीडिया पर टिकटॉक के खिलाफ एक जंग छिड़ गई. इसकी वजह से टिकटॉक की रेटिंग में भारी गिरावट आई. 

जहां एक समय टिकटॉक की रेटिंग करीब 4.6 थी वह घटकर 1.6 ही रह गई. क्योंकि इसी बीच काफी लोगों ने टिकटॉक का बहिष्कार करना शुरू कर दिया था, जिसका सीधा असर टिकटॉक की रेटिंग पर पड़ा.



इसी बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मेक इन इंडिया पर जोर दिया और अधिकांश वस्तुएं भारत की बनाई हुई ही खरीदने के लिए देश के लोगों से अपील की थी. 

इसी का फायदा उठाकर आईआईटी रुड़की के एक छात्र शिवांक अग्रवाल ने मित्रों (Mitron) नामक एक एप बनाया जो हूबहू टिकटॉक की तरह काम करता है.


mitron app launched to compete with tik tok more than 50 lakh users have downloaded so far

मित्रों एप करीब एक महीने पहले लांच हुआ था और अभी तक इस एप को 50 लाख से भी ज्यादा लोग डाउनलोड कर चुके हैं. बता दें, ये ऐप तेजी से पॉपुलर हो रहा है. 

इतना ही नहीं इस एप की रेटिंग टिकटॉक से कहीं ज्यादा है. मित्रों ऐप को 4.7 रेटिंग मिली हुई है. हालांकि यूजर्स के रिव्यू के आधार पर अभी इस एप में कई कमियां हैं. 
यदि भारत में इस एप को हमेशा के लिए कारगार बनाना है तो इन कमियों को जल्दी ही दूर करना होगा.

बता दें, यह एप अभी सिर्फ एंड्राइड यूजर्स के लिए है अभी तक इस एप का आईओएस वर्जन नहीं आया है. लेकिन यदि भारतियों का सपोर्ट मिला तो यह जल्दी ही टिकटॉक से आगे निकल सकता है.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां