Trending Now

BJP के वरिष्ट नेता और पूर्व वित्त मंत्री Arun Jaitley का 66 साल की उम्र में निधन



Former Union Minister And Senior BJP Leader Arun Jaitley Passes Away at 66 : बेहद ही दुखद खबर है क्योंकि आज पूर्व वित्त मंत्री (Former Union Minister) और बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) का 66 साल की उम्र में निधन हो गया है. 

इन्हें इसी महीने 9 अगस्त को दिल्ली के AIIMS अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. उस दौरान इन्हें सांस लेने में परेशानी हो रही थी. लेकिन भर्ती होने के बाद उनकी तबियत और बिगड़ती चली गई. बता दें, कुछ साल पहले ही उन्होंने बैरियाट्रिक सर्जरी करवाई थी.
Arun Jaitley, Senior BJP Leader And Former Union Minister, Dies At 66
Former Union Minister And Senior BJP Leader Arun Jaitley Passes Away at 66
अरुण जेटली (Arun Jaitley) की हालत बीते शुक्रवार को काफी बिगड़ गई थी. बता दें, हाल ही में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहित कई वरिष्ठ नेता AIIMS पहुंचकर जेटली का हालचाल ले चुके थे और इस शुक्रवार को ही भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती ने AIIMS पहुंचकर अरुण जेटली के स्वास्थ्य की जानकारी ली थी.

Former Union Minister And Senior BJP Leader Arun Jaitley Passes Away at 66

जेटली (Arun Jaitley) ने दिल्ली के एम्स में आज यानी 24 अगस्त को दोपहर 12.07 बजे अंतिम सांस ली. वह 66 साल के थे. इनके निधन की खबर सुनने के तुरंत बाद ही गृह मंत्री (Home Minister) अमित शाह (Amit Shah) ने अपने हैदराबाद दौरे को खत्म कर दिया. 

बता दें, शाह के अलावा प्रधानमंत्री (Prime Minister) नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) भी इस दौरान विदेशी दौरे पर हैं. वह इस समय संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में हैं.

ख़बरों के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी (Narendra Modi) ने UAE से ही जेटली की पत्नी संगीता और बेटे रोहन से फ़ोन पर बात की और उन्हें सांत्वना दी. पीएम मोदी (Narendra Modi) ने एक ट्वीट भी किया जिसमे उन्होंने लिखा –
जेटली एक करिश्माई व्यक्ति थे जिनका समाज के सभी वर्गों में बहुत सम्मान था. अपने लंबे राजनीतिक करियर में उन्होंने कई मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाली थी.
जेटली ने मोदी के कार्यकाल में काफी बड़े-बड़े काम किये थे. उन्होंने बतौर वित्त मंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का हर जगह साथ दिया. लेकिन ख़राब स्वास्थ्य की वजह से वह इस साल लोकसभा चुनावों में खड़े नहीं हो सके. बता दें, इस बारे में उन्होंने मोदी को काफी पहले ही अवगत करा दिया था.



यह भी बताया जा रहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का विदेशी दौरा अभी जारी रहेगा क्योंकि अरुण जेटली के परिवार वालों ने आग्रह किया है कि वह इस दौरे को जारी रखें. बता दें, मोदी 26 अगस्त को वापिस भारत लौटेंगे. 

नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के अलावा गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने भी जेटली के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके जाने से पैदा हुआ खालीपन का भरना आसान नहीं होगा. शाह ने ट्वीट कर लिखा –
खुशमिजाज व्यक्तित्व वाले जेटलीजी से मिलना और उनसे विचार विमर्श करना सभी के लिए एक सुखद अनुभव होता था. आज उनके जाने से देश की राजनीति और भारतीय जनता पार्टी में एक ऐसी रिक्तता आई है जिसकी भरपाई होना जल्दी संभव नहीं है.
अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन के बाद से पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई है. जगह-जगह से उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है. अरुण जेटली के अकस्मात निधन के बाद कांग्रेस पार्टी (Congress Party) ने भी शोक संदेश जारी किया और कहा –
हम अरुण जेटली के निधन की खबर से बहुत दुखी हैं. उनके परिवार के प्रति हमारी संवेदना है. शोक की इस घड़ी में हमारी संवेदान और प्रार्थना उनके साथ हैं. 
Former Union Minister And Senior BJP Leader Arun Jaitley Passes Away at 66

बताया गया है कि अरुण जेटली (Arun Jaitley) पहले से डायबिटीज के मरीज थे. उनका पहले ही किडनी ट्रांसप्लांट हो चुका था. सॉफ्ट टिशू, जो एक प्रकार का कैंसर होता है, की बीमारी से ग्रसित थे. इसके इलाज के लिए वह अमेरिका भी गए थे. लेकिन बाद में उन्हें फिर इस परेशानी से जूझना पड़ा.
Arun Jaitley, Senior BJP Leader And Former Union Minister, Dies At 66
Arun Jaitley, Senior BJP Leader And Former Union Minister passes away At 66
आपको बता दें, अरुण जेटली (Arun Jaitley) सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के वरिष्ठ वकील भी थे. मोदी सरकार के लावा वह बीजेपी (BJP) के ही वरिष्ट नेता और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की सरकार में भी केंद्रीय मंत्री रह चुके थे. 

जेटली 80 के दशक में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) और देश के कई हाई कोर्ट (High Court) में महत्वपूर्ण केस लड़ चुके थे. बता दें, 1990 में उन्हें दिल्ली हाई कोर्ट (High Court of Delhi) ने सीनियर वकील का दर्जा भा दिया था.

No comments