Paresh Rawal Birthday: 65 की उम्र में भी करोड़ों दिलों पर राज करते हैं बाबू भैया, ये हैं इनके 10 फेमस डायलॉग


Happy Birthday Paresh Rawal : Here are Top 10 Dialogues of Babu Bhaiya


आज बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता परेश रावल (Paresh Rawal) का जन्मदिन है. इनका जन्म 30 मई 1955 में मुंबई में हुआ था. परेश रावल बॉलीवुड के उन अभिनेताओं में से एक हैं जिन्होंने बड़े पर्दे पर कॉमेडी, विलेन और सीरियस कई तरह के किरदार निभाये हैं. सभी किरदारों में इन्हें खूब पसंद किया गया है.

paresh rawal top 10 dialogues


बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में परेश रावल को 30 साल से भी ज्यादा हो गए हैं. इन्होने साल 1985 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘अर्जुन’ (Arjun) से डेब्यू किया था. 

लेकिन साल 1986 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘नाम’ ने इन्हें रातों रात बड़ा स्टार बना दिया. इस फिल्म में इन्होने नेगेटिव किरदार निभाया था.


बता दें, परेश रावल ने साल एक्ट्रेस और मिस इंडिया विनर स्वरुप संपत से शादी की थी. इनके दो बेटे भी हैं. इनमे से एक का नाम आदित्य और दूसरे का नाम अनिरुद्ध है.

अभी तक परेश रावल ने बड़े पर्दे पर कई ऐसे किरदार निभाये हैं जिनके डायलॉग आज भी दर्शकों को खूब पसंद आते हैं. इनमे हेरा फेरी का बाबूराव गाणपतराव आप्टे, अंदाज़ अपना अपना का तेजा, वेलकम का डॉ घुंघरू जैसे कई किरदार शामिल हैं. 



आज हम इनके जन्मदिन पर 10 ऐसे फेमस डायलॉग लेकर आये हैं जो सभी को खूब पसंद आये थे.

1. जहां धर्म है ना वहाँ सत्य के लिए जगह नहीं है, और जहां सत्य है वह सच है, वहां धर्म की ज़रुरत ही नहीं है - ओह माय गॉड

2. ये बाबूराव का स्टाइल है - हेरा फेरी

3. पहले तो वो खड़ा था गाँधी की तरह, फिर मुझे झाड़ दिया आंधी की तरह, और ये तुम्हारे पहलवान सब गिर गए माचिस की कांधी की तरह - हिम्मतवाला


4. खीचे हुए कान से मिला हुआ ज्ञान, हमेशा याद रहता है - राजा नटवरलाल

5. मुर्ग़ी चुराई कसाई से और खबर फैलाई डकार से - मेरे बाप पहले आप

6. ये हिंदुस्तान अब चुप नहीं बैठेगा, ये नया हिंदुस्तान है, ये घर में घुसेगा भी मारेगा भी उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक


7. तुम्हारी तरह महात्मा गांधी बैठ गए होते घर में, बीवी बीवी बेटा बेटा करते हुए, तो तुम आज भी किसी अंग्रेज के घर में लैट्रिन साफ कर रहे होते - नायक

8. उठा ले रे बाबा उठा ले, मेरेको नहीं रे बाबा इन दोनों को उठा ले - हेरा फेरी

9. तेजा मैं हूं, मार्क इधर है - अंदाज़ अपना अपना

10. अपना तो सिद्धांत है शान से जीयो और शान्ति से लुढ़क जाओ आरजू

इनमे से आपका फेवरेट डायलॉग कौन सा है? कमेंट बॉक्स में कमेंट जरूर करें, धन्यवाद.

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां